आरबीआई की ओर से किए गए रेट कट से रियल एस्टेट को मिलेगी मजबूती, घर खरीदारी में होगा इजाफा

बिजनेस डेस्क: रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने रेपो रेट में 25 आधार अंकों की कटौती करते हुए बड़ी राहत दी है। एनरॉक प्रॉपर्टी कंसल्टेंट के चेयरमैन अनुज पुरी ने बताया कि आरबीआई की ओर से रेपो रेट को 25 बेसिस प्वाइंट घटाकर 6.25 फीसद करना एक स्वागत योग्य कदम है। उन्होंने कहा कि यह एक प्रत्याशित कदम है जो कि राहत देगा, जैसा कि हाल ही में सरकार ने अपने अंतरिम बजट में 75,000 करोड़ रुपये प्रति वर्ष की अतिरिक्त लागत से किसानों को राहत दी है। अनुज पुरी ने बताया कि यह प्रत्याशित था क्योंकि यह लंबे समय बाद पहली कटौती है। यह निश्चित रूप से रियल एस्टेट क्षेत्र के लिए बेहतर फैसला है जिसे पिछले सप्ताह पेश हुए अंतरिम बजट में भी सौगातें दी गई हैं। पुरी ने कहा कि रेट कट से संपत्ति खरीदारों को प्रोत्साहन मिलेगा और यह इस तरह की कटौती के लिए सही समय था। उन्होंने बताया कि बीते एक वर्ष के दौरान होम लोने की ब्याज दरों में 5 से 7 फीसद का इजाफा हो गया था क्योंकि आरबीआई ने अपनी रेपो रेट में 50 बेसिस प्वाइंट का इजाफा कर दिया था। आसान शब्दों में कहें तो होम लोन एक महंगा सौदा बन गया था। पुरी ने आगे कहा कि हालांकि अचल संपत्ति बाजार खरीदारी की भावना में मामूली सुधार पर निर्भर नहीं रहता है, यहां काफी सारे फैक्टर हैं जिन्होंने सेक्टर को रोक रखा है। एनबीएफसी संकट के बाद नकदी का संकट एक बड़ी चिंता है। एनबीएफसी और एचएफसी ने डेवलपर्स तक पैसे की उपलब्धता को गंभीर रुप से प्रभावित किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here