ओजोन परत को बचाने जन चेतना पर दिया गया जोर

छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल द्वारा अंतर्राष्ट्रीय ओजोन परत संरक्षण दिवस के अवसर पर नवीन विश्राम गृह, सिविल लाईंस, रायपुर में पोस्टर एवं पर्यावरणीय प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस अवसर पर आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह को सम्बोधित करते हुए पर्यावरण संरक्षण मंडल के सदस्य सचिव आर.पी. तिवारी ने उपस्थित छात्र-छात्राओं को आव्हान किया कि वे ओजोन परत की सुरक्षा हेतु जन चेतना जागृत करें। तिवारी ने कहा कि स्वयं जागरूक होने के बाद ही हम आम जनता को ओजोन परत के संरक्षण के उपायों को बेहतर ढंग से समझा सकते हैं। हमें अपनी जीवन शैली में परिवर्तन कर यह सुनिश्चित करना होगा कि ओजोन परत को नुकसान पहुंचाने वाले पदार्थ धीरे-धीरे समाप्त हो जाये।   
    तिवारी ने सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग न करने की भी अपील की। उन्होंने प्लास्टिक के दुष्प्रभावों की चर्चा करते हुए कहा कि यह सैंकड़ो सालों तक हमारे पर्यावरण को नुकसान पहुंचाता रहता है। प्रतियोगिता में विजयी प्रतिभागियों को पुरस्कार वितरित किये गये। पर्यावरणीय प्रश्नोत्तरी में प्रथम स्थान योगेश कुमार कुर्रे, शा. छत्तीसगढ़ महाविद्यालय, द्वितीय स्थान रविन्द्र बिहारी अग्रवाल, अग्रसेन महाविद्यालय, तृतीय स्थान कु. जमुना साहू, दूर्गा महाविद्यालय, सांत्वना पुरस्कार में कु. पुजा साहू, कु. प्रीति किरूपोट्टा, रूपम वैरागडे ने स्थान प्राप्त किया। इसके साथ ही पोस्टर प्रतियोगिता में आयु वर्ग 10 वर्ष से 14 वर्ष में प्रथम स्थान हर्ष सोनकर, द्वितीय स्थान नितिन राव, तृतीय स्थान डीम्पल जंघेल एवं विदेश मेरावी, वैभव शर्मा, कु. चांदनी साहू ने सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया। आयु वर्ग 15 वर्ष से 18 वर्ष में प्रथम स्थान रितिक पहरिया, द्वितीय स्थान कु. विनी शर्मा, तृतीय स्थान कु तन्नू जंघेल, सांत्वना पुरस्कार में कु. डेजी रानी जंघेल, कु. आफरीन बानो, कु. श्रुती मिश्रा ने स्थान प्राप्त किया। इसके अलावा आयु वर्ग 19 वर्ष से 22 वर्ष में प्रथम स्थान कु. याशिका जैन, द्वितीय स्थान कु. कल्पना गंजीर, तृतीय स्थान कु. भाविका बोहरा एवं सांत्वना पुरस्कार कु. काजल साहू, कु. संध्या, कु. श्रीति रॉय ने स्थान प्राप्त किया। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here