खुद भी भगवा हो गए दिग्विजय सिंह

लोकसभा चुनाव 2019 के नाम पर मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में चल रही भगवा प्रतियोगिता में अब तक दिग्विजय सिंह के समर्थन में भगवाधारी साधुओं का जमावड़ा लग रहा था परंतु कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह ने खुद ही भगवा धारण कर लिया। दिग्विजय सिंह ने आज गायत्री मंदिर में पूजा पाठ किए और गाय को चारा खिलाया। भाजपा ने यहां से प्रज्ञा ठाकुर को प्रत्याशी बनाया है जो भगवा वस्त्र धारण करतीं हैं एवं खुद को सन्यासी बतातीं हैं।

देश के इतिहास में शायद यह पहली बार हो रहा है जब भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों के प्रत्याशी भगवा रंग पर फोकस कर रहे हैं। भाजपा ने भगवा को हिंदुत्व और धर्म का प्रतीक बताया तो दिग्विजय सिंह ने भी भगवा का जवाब भगवा से ही दिया। अब भोपाल के विकास की बात बंद हो गई है। सिर्फ भगवा की लड़ाई दिखाई दे रही है। दोनों प्रत्याशी अपने अपने भगवा को ज्यादा सुर्ख साबित करने में लगे हुए हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कई धार्मिक यात्राएं कीं हैं। शंकराचार्य से लेकर कई नामी साधुओं के साथ उनके फोटो नजर आते हैं। वो कई तीर्थ स्थलों पर भी नजर आए लेकिन उन्होंने कभी भी अपनी पोशाक नहीं बदली। नर्मदा यात्रा के दौरान भी वो कांग्रेंसी कुर्ता और गमछा में ही नजर आए परंतु चुनाव का दवाब देखिए आज वो भगवा अंग धारण करके भोपाल में निकले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here