रायपुर : युवाओं की नई सोच और नए विचारों से समाज तरक्की की ओर बढ़ेगा : नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया

रायपुर : नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने कहा कि  हमारा देश युवाओं का देश है। देश की तरक्की और उन्नति में युवाओं का योगदान सुनिश्चित करने के लिए उन्हें उद्योग और व्यवसाय से जोड़ना होगा। उन्होंने कहा कि युवाओं की नई सोच और नए विचारों से समाज तरक्की की ओर बढ़ेगा। डॉ. डहरिया ने समाज के प्रबुद्ध जनों से युवाओं को सामाजिक, संास्कृतिक गतिविधियों से जोड़ने के काम में आगे आने कहा। डॉ. डहरिया न्यू राजेन्द्र नगर स्थित सांस्कृतिक भवन में आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने इस मौके सतनामी समाज के वैवाहिक परिचय पत्रिका ‘बंधन’ पार्ट-2 का विमोचन किया। डॉ. इस दौरान समाज की मांग पर न्यू राजेन्द्र नगर स्थित सांस्कृति भवन के विस्तार के लिए 10 लाख रूपए की घोषणा की। डॉ. डहरिया ने कहा कि समाज में एकता के साथ सामाजिक सहभागिता से समाज का निरंतर विकास होता है। समाज के विकास के लिए संस्थाएं और समिति अलग-अलग हो सकती है, लेकिन उद्देश्य एक होना चाहिए। समाज के अंतिम छोर के व्यक्ति जब शैक्षणिक और आर्थिक रूप से सम्पन्न होगा तब समाज भी मजबूत होगा। समाज का नेतृत्व करने के लिए प्रबुद्ध लोगों को सामने आना चाहिए। उन्होंने कहा कि समाज को आगे बढ़ाने के लिए कड़ी मेहनत करना चाहिए। अन्य समाजों से भी प्रेरणा लेना चाहिए। सामजिक कुरीतिंयों को त्याग कर समाज के सभी लोगों को समाज की मुख्यधारा में लाने का प्रयास किया जाए, जिससे समाज सहीं दिशा में आगे बढ़ सके। उन्होंने पढ़े-लिखे बेरोजगार युवाओं को व्यापार-व्यवसाय के क्षेत्र में आगे आना चाहिए। कम शिक्षित युवाओं को कौशल उन्नयन योेजना के तहत विभिन्न ट्रेडों (व्यवसायों) में प्रशिक्षण प्राप्त कर लघु उद्योग स्थापित कर आत्मनिर्भरता की दिशा में आगे बढ़ना चाहिए। डॉ. डहरिया ने समाज के विकास के लिए राज्य सरकार की ओर हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। कार्यक्रम में गुरू घासीदास सांस्कृति एवं साहित्य समिति के अध्यक्ष श्री के. पी. खाण्डे, डॉ. जे. आर. सोनी, श्री डी.एस. पात्रे, श्री चेतन चंदेल, श्री सुंदर लाल जोगी, श्रीमती सकुन डहरिया, गिरिजा पाटले, धनेश्वरी डांडे, चंपा गेंदले, उषा चतुर्वेदानी, घासीदास कोशले, अमृत लाल जोशी, उतित भरद्वाज, डी.आर. बाघमारे, सकुन्तला डेहरे, खेदू बंजारे, बाबा डहरिया, किरपा चतुर्वेदी और डी.डी. भारती सहित बड़ी संख्या में समाज के लोग उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here